• Fri. Nov 27th, 2020

भ्रष्टाचार के मामले को लेकर बिहार के नए मंत्री ने दिया इस्तीफा, नीतीश सरकार ने किया मुंह बंद

भ्रष्टाचार के आरोपों के बीच बिहार के शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी ने गुरुवार को इस्तीफा दे दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद अपना इस्तीफा सौंप दिया।

चौधरी ने समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से कहा, “केवल आरोप तब साबित होता है जब आरोपपत्र दायर किया जाता है या अदालत आदेश देती है और दोनों में से कोई भी मेरे खिलाफ आरोप साबित करने के लिए नहीं है।”

बिहार के मुख्य विपक्षी राजद ने चौधरी को शिक्षा मंत्री नियुक्त करने के लिए मुख्यमंत्री पर हमला किया है।

विकास को लेकर सीएम नीतीश पर निशाना साधते हुए राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा, ” आप असली अपराधी हैं। आपने (उसे) मंत्री क्यों बनाया? आपकी नकल और नौटंकी अब बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ”

इससे पहले, आरजेडी सांसद और प्रवक्ता मनोज कुमार झा ने द इंडियन एक्सप्रेस से कहा था, ” शिक्षा मंत्री के रूप में मेवालाल चौधरी की पसंद इस तरह के बयानों की नई योजना के बाद सीएम की कमजोर स्थिति के बारे में इतना जोरदार बयान देती है। एक स्पष्ट संदेश बिहार में चला गया है कि सरकार इस प्रकार के विकल्पों के साथ सरकार से कुछ भी सकारात्मक होने की उम्मीद नहीं कर सकती है।

झा ने कहा कि नीतीश कुमार ने भ्रष्टाचार के “गैर-मामले” पर “उच्च नैतिक आधार” लेने की कोशिश की, जब वह 2017 में ग्रैंड अलायंस से बाहर चले गए, राजद और कांग्रेस के साथ गठबंधन सरकार को नीचे लाया।

यह मामला भागलपुर के सबौर में बिहार कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में चौधरी के कार्यकाल से संबंधित है। उन्होंने और लगभग 50 अन्य लोगों को 2017 में आईपीसी की धारा 409, 420, 467, 468, 471 और 120 बी के तहत बुक किया गया था।

यह मामला चौधरी के कार्यकाल में 2010 से 2015 के बीच वीसी के रूप में नए खोले गए कृषि विश्वविद्यालय में 167 सहायक-कनिष्ठ वैज्ञानिकों की नियुक्ति में कथित विसंगतियों से संबंधित था। उन्होंने अपने 2020 के चुनावी हलफनामे में यह घोषणा की और मुंगेर के तारापुर से विधायक चुने गए। ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

🦠🧬 COVID-19 महामारी, लापरवाही पड़सकता है भारी।

प्रिय पाठक , शर्दी में कोरोना का बढ़ने का आषा किया जा रहा है ,इसलिए ख़ामोश दुनिया टीम आप सभी पाठक से आग्रह करता है की घर से बहार निकलते समय मास्क जरूर पहने। धन्यवाद "जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं।"