• Thu. Jun 17th, 2021

बुधवार से अनलॉक हुआ बिहार, जानें क्या रहेगा खुला और क्या होगा बंद

ByG P Soni

Jun 8, 2021

पटना: कोरोनावायरस की दूसरी लहर के मद्देनजर बिहार सरकार ने 5 मई से लॉकडाउन लगाने का जो फैसला लिया था वह लगातार चार चरणों तक यानी 8 जून तक चला इसके बाद इसका असर भी हुआ और बिहार में कोरोना की रफ्तार में काफी कमी देखी गई अब धीरे-धीरे बिहार सरकार राज्य के हर वर्ग के लोगों की जीवन शैली पटरी पर लाने के लिए नए नियम लायी है ।

जिसमें आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में कोरोना को नियंत्रण में रखने हेतु कार्यालय दुकान प्रतिष्ठान और सामाजिक और अन्य कार्यक्रमों में कई सुधारगत निर्णय लिए गए जिनमें सभी दुकाने और प्रतिष्ठान 1 दिन बीच करके सुबह 6:00 से 5:00 बजे शाम तक खुल सकेंगे इस विषय पर उस जिले के डीएम आदेश निर्गत कर सकेंगे।दुकानों और प्रतिष्ठानों में हमेशा मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है।

इसके अलावा काउंटर पर दुकानदारों द्वारा कर्मियों और ग्राहकों के लिए सैनिटाइजर की व्यवस्था अनिवार्य कर दी गई है वही दुकान और प्रतिष्ठानों में सोशल डिस्टेंसिंग का मानक 2 गज की दूरी का अनुपालन किया जाना अनिवार्य कर दिया गया है जिसके लिए सफेद गोला बनाया जाना है इन नियमों को ना मानने की एवज में जिला प्रशासन कभी भी कार्रवाई कर सकता है इसके अलावा अस्पताल पशु अस्पताल स्वास्थ्य प्रतिष्ठान निर्माण संबंधी इकाइयां सरकारी और निजी दवा दुकानें मेडिकल लैब नर्सिंग होम एंबुलेंस आदि सेवाएं पूर्ववत कार्य करती रहेंगी।

सार्वजनिक परिवहन के साधनों जैसे बस टेंपो मैजिक सवारी कार इत्यादि में 50 परसेंट क्षमता के साथ ही पैसेंजर ढोये जा सकेंगे इसके अलावा स्कूल कॉलेज कोचिंग संस्थान ट्रेनिंग और अन्य शैक्षणिक संस्थान पूर्णत: बंद रहेंगे इस अवधि में राज्य सरकार के विद्यालय और विश्वविद्यालय द्वारा किसी भी तरह की कोई परीक्षाएं नहीं ली जाएंगी हालांकि ऑनलाइन शिक्षण की व्यवस्था की जा सकेगी.रेस्टोरेंट्स खाने की दुकानों में केवल होम डिलीवरी सुबह 9:00 बजे से रात के 9:00 बजे तक मान्य होगा नेशनल हाईवे पर मौजुद ढाबे टेक होम के आधार पर कार्य कर सकते हैं ।

सार्वजनिक स्थलों पर सभी प्रकार की सरकारी या निजी आयोजन पर रोक रहेगी सभी तरह के सामाजिक राजनीतिक मनोरंजन खेलकूद शैक्षणिक सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजन समारोह पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे सभी धार्मिक स्थल आम जनों के लिए बंद रहेंगे।

विवाह जैसे समारोह भी अधिकतम 20 व्यक्तियों की उपस्थिति के साथ ही आयोजित कीये जा सकेंगे और इनमें डीजे और बरात जुलूस प्रतिबंधित रहेंगे इसके अलावा इसकी सूचना स्थानीय थाने को कम से कम 3 दिन पूर्व देनी होगी। पूरे राज्य में शाम 7:00 बजे से सुबह के 5:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा इस अवधि में स्वास्थ्य से जुड़ी गतिविधियों में जुड़े वाहन और स्वास्थ्य प्रयोजन से इस्तेमाल किए जाने वाले निजी वाहन चलेंगे निजी वाहनों के परिचालन और पैदल आवागमन पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा हालांकि नाइट कर्फ्यू में यह मान्य नहीं है ।

सार्वजनिक और निजी वाहनों में सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा इसका पालन नहीं करने पर उचित कार्यवाही होगी। यदि किसी भी व्यक्ति के द्वारा इन नियमों का उल्लंघन करते पाया जाता है तो प्रशासन द्वारा उस पर आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51- 60 एवं भारतीय दंड विधान की धारा 188 के प्रावधानों के अंतर्गत दंडात्मक कार्रवाई करना सुनिश्चित किया गया है।

 933 कुल दृश्य,  2 आज के दृश्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SORRY SIR .... WE ARE WITH YOU BUT DONOT COPY....