• Fri. Nov 27th, 2020

दानापुर में दो हिस्सों में बंट गई सुविधा स्पेशल ट्रेन, टला बड़ा हादसा

दानापुर: बिहार के दानापुर में बड़ा ट्रेन हादसा होने से टल गया. कामाख्या से लोकमान्य तिलक जंक्शन महाराष्ट्र जा रही सुविधा स्पेशल ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई. ये हादसा सदीसोपुर रेलवे स्टेशन के पास बिहटा और नेउरा के बीच हुआ. गनीमत ये रही, कि ट्रेन की स्पीड अधिक नहीं थी. ट्रेन के दो हिस्सों में बंटने से यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई.

दरअसल, महाराष्ट्र की ओर जा रही ट्रेन संख्या 02520 सुविधा स्पेशल ट्रेन बिहटा और नेउरा के बीच दो हिस्सों में बंट गई. बताया जा रहा है कि ट्रेन से आधी बोगियां जैसे ही अलग हुईं, तो झटके के साथ तेज आवाज आई. झटका लगने से ट्रेन में सवार यात्रियों में चीख पुकार मच गई. ट्रेन की आधी बोगी रास्ते में ही छूट गईं. ट्रेन आधी बोगियों के साथ आगे बढ़ गई.

ट्रेन की बोगियों में सवार यात्रियों के शोरगुल की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंच गए. चालक ने करीब एक किलोमीटर दूर जाकर ट्रेन को रोका. सूचना पर रेलवे के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए. रेलवे के इंजीनियर ने इंजन को शंटिंग कराकर बोगियों को जोड़ने के बाद ट्रेन को गंतव्य की ओर रवाना किया.

दानापुर रेल मंडल के डीआरएम सुनील कुमार ने ट्रेन हादसे पर बताया कि दानापुर रेल मंडल होते हुए कामाख्या से महाराष्ट्र के लोकमान्य स्टेशन जाने के दौरान ये हुआ. कामाख्या लोकमान्य तिलक सुविधा स्पेशल ट्रेन दानापुर रेल मंडल के सदिसोपुर पुर रेलवे स्टेशन के पास किसी वजह से ट्रेन की कुछ बोगियां ट्रेन से कटकर अलग हो गईं.

उन्होंने बताया कि दानापुर स्टेशन से इंजीनियर की टीम ने जाकर उसे जोड़ कर फिर से रवाना कर दिया. इस काम में लगभग आधे घंटे से 1 घंटे तक ट्रेन रुकी रही. रेलवे की बड़ी दुर्घटना टलने की बात पर डीआरएम ने बताया कि बड़ी चूक नहीं है लेकिन चूक है ऐसे में हादसा हो सकता था.

बताया गया है कि कपलिंग खुलने की वजह से ट्रेन दो हिस्सों में ​बंट गई थी. वहीं इस घटना को लेकर यात्रियों का कहना था कि अचानक हुए धमाके के बाद वे दहशत में आ गए थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

🦠🧬 COVID-19 महामारी, लापरवाही पड़सकता है भारी।

प्रिय पाठक , शर्दी में कोरोना का बढ़ने का आषा किया जा रहा है ,इसलिए ख़ामोश दुनिया टीम आप सभी पाठक से आग्रह करता है की घर से बहार निकलते समय मास्क जरूर पहने। धन्यवाद "जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं।"