• Mon. Mar 1st, 2021

बिमार बेटे के ईलाज में पिता लाचार, नही सुन रही सरकार

ByG P Soni

Jan 23, 2021

कैमूर: कैमूर के नुआंव प्रखंड के रामपुर गांव में एक मजदूर अपने बीमारी से ग्रस्त बेटे के इलाज के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहा है लोगों से अनुनय विनय कर रहा है प्रशासन नेताओं और मंत्री से गुहार लगा रहा है लेकिन उसकी कोई नहीं सुन रहा।

मामला यह है की वह मजदूर इतना गरीब है कि खुद का और अपने परिवार का ही पेट बड़ी मुश्किल से पाल पाता है ऐसे में उसके बेटे की बीमारी ने उसे और असहाय बना दिया है तीन बेटियों और एक बेटे का पिता का कहना है कि बेटे की हड्डी में मवाद हो गया है जिसकी वजह से इलाज के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है

स्थानीय पीएचसी में डॉक्टरों का कहना था कि समय से इसे बड़े अस्पताल में एडमिट कराकर इसका इलाज कराना पड़ेगा वही बेबस पिता अपने बच्चे की ईस बीमारी को लेकर स्वास्थ्य मंत्री जिलाधिकारी से लेकर हर छोटे बड़े अधिकारी तक अपनी गुहार लगा चुका है लेकिन इसका कोई नतीजा नहीं निकला,पिता का कहना था की डॉक्टरों द्वारा पटना रेफर किए जाने पर दूर होने और आर्थिक तंगी की वजह से नहीं जा सका वही वाराणसी में भी ट्रामा सेंटर रेफर करने पर 3 साल तक लगातार दवा खिलाने की बात कही गई है जिसके बाद महंगी दवा होने के कारण वापस आकर घर बैठना पड़ा अब सिवाय अपनी बदहाली के आंसू बहाने के और हम सब कर क्या सकते हैं जिनसे भी मिन्नते करनी थी हमने की है

कोई सुनने वाला नहीं है आस-पड़ोस और गांव वाले आपस में चंदा इकट्ठा कर कुछ मदद कर तो रहे हैं लेकिन वह नाकाफी है सरकार और गरीबों को सुविधाएं देने के नाम पर करोड़ों बटोरने वाले एनजीओ भी खामोशी तान कर बैठे हैं देखना यह है कि क्या गरीबों के मसीहा बनने वाले राजनेता व सामाजिक संगठन सही समय पर गरीबों की मदद करते वक्त आगे आते हैं या यह सिर्फ एक जुमला बनकर रह जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *