• Fri. Nov 27th, 2020

समाजसेवी की मार्मिक अपील का असर,दिये खरिदने को मुहिम चला रहे लोग

ByG P Soni

Nov 13, 2020

कांग्रेस के झारखंड प्रदेश के ओबीसी प्रकोष्ठ के महासचिव एवं प्रखर समाजसेवी अवधेश कुमार ने देशवासियों से भावुक अपील की है उनका कहना है की देशवासी इस दिवाली सिर्फ मिट्टी के दिए ही इस्तेमाल करें इससे एक साथ कई फायदे होते हैं पहला फायदा तो यह कि इससे गरीब कुम्हारों को रोजगार मिल रहा है एवं उनके घर के चूल्हे ठंडे नहीं पड़ रहे हैं दूसरा हम अपने सनातन संस्कृति से जुड़े रह रहे हैं

चाइनीज और इलेक्ट्रॉनिक झालरों की वजह से हम पाश्चात्य सभ्यता अपना रहे हैं जिससे हमारी सदियों पुरानी चली आ रही सनातन संस्कृति धीरे-धीरे धूमिल होती जा रही है मिट्टी के दीयों को जलाने से सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इससे वायुमंडल में मौजूद हानिकारक जीवाणु भी नष्ट होते हैं और मनुष्य का स्वास्थ्य अच्छा रहता है

इसके साथ ही साथ इलेक्ट्रॉनिक झालरों पर जहां बिजली के बिल की बढ़ोतरी के साथ साथ शॉर्ट सर्किट के डर से जान-माल की क्षति होने का भी नुकसान रहता है वही देश में बढ़ रही बेरोजगारी और भुखमरी की वजह से दिन पर दिन बद से बदतर जिंदगी बिता रहे देश के कुम्हार भाइयों को भी एक अच्छा रोजगार उपलब्ध हो रहा है।

मैं एक समाजसेवी होने के नाते देश के लोगों से हमेशा अपील करता रहा हूं कि देश के कुम्हार भाइयों को भी समाज की मुख्यधारा में रहकर अपना पेट चलाने एवं आर्थिक रूप से सशक्त होने का मौका मिलता है हमें यह अवसर खोना नहीं चाहिए। उन्होंने इस अवसर पर खुद भी दिए रखकर लोगों को मुफ्त बांटे और उन्हें इस विषय पर अन्य लोगों को भी जागरूक करने का आग्रह किया।

समाजसेवी कि इस भावुक अपील का असर भी हुआ है और कई जगहों पर यह एक मुहिम सी चल पड़ी है कि लोग मिट्टी वाले दिये खरीदने को हर जगह आतुर दिख रहे हैं वहीं कई लोगों ने उनकी इस अपील को काफी सराहनीय कदम बताते हुए कहा कि समाज के हर वर्ग का ध्यान रखना ही एक सच्चे समाजसेवी का कर्तव्य होता है और अवधेश कुमार जी इस उद्देश्य में हमेशा आगे रहते हैं उनके इस कदम पर हम सब उनके साथ खड़े हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

🦠🧬 COVID-19 महामारी, लापरवाही पड़सकता है भारी।

प्रिय पाठक , शर्दी में कोरोना का बढ़ने का आषा किया जा रहा है ,इसलिए ख़ामोश दुनिया टीम आप सभी पाठक से आग्रह करता है की घर से बहार निकलते समय मास्क जरूर पहने। धन्यवाद "जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं।"