• Sat. Oct 24th, 2020

बिहार चुनाव: कांग्रेस ने दिया एक जिनाहः समर्थक को टिकट : कांग्रेस नेता ऋषि मिश्रा

पटना: बिहार कांग्रेस में विधानसभा चुनाव (Bihar Vidhansabha election) से पहले लगातार घमासान मचा हुआ है. जाले के एक नेता ने विवादित बयान देते हुए कहा कि पार्टी ने जिन्ना समर्थक को टिकट दिया है. पूर्व विधायक ललित नारायण मिश्रा के पोते ऋषि मिश्रा ने पार्टी आलाकमान के टिकट बंटवारे को लेकर सवाल खड़े किए हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस गांधी विचाधारा को मानने वाली पार्टी है, लेकिन जिन्ना समर्थक को पार्टी ने कैसे टिकट दिया. मुझे टिकट नहीं मिला कोई बात नहीं, लेकिन देश-विरोधी शख्स को कैसे टिकट दिया गया. उन्होंने कहा कि जिन्ना के मसले पर तो देश ने आडवाणी को भी माफ नहीं किया था. कांग्रेस ने अपनी एक सीट के कारण 69 उम्मीदवारों का भविष्य दांव पर लगा दिया है.

यही नहीं ऋषि मिश्रा ने यह भी कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा ने जाले सीट से मेरा टिकट कटवा दिया. मदन मोहन झा ने सोनिया गांधी से साफ कहा कि ऋषि मिश्रा को टिकट दिया गया तो वो इस्तीफा दे देंगे. एमएलसी का चुनाव नहीं लड़ेंगे. इतने निचले स्तर की राजनीति मैंने नहीं देखी.

उन्होंने कहा कि मैं तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के लिए प्रचार करूंगा. कांग्रेस जहां बोलेगी वहां काम करूंगा, लेकिन मैं पार्टी आलाकमान से अनुरोध करूंगा कि ऐसे अध्यक्ष को अविलंब हटाया जाए.

कांग्रेस के जाले उम्मीदवार पर हुए बवाल पर बीजेपी सांसद व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि महागठबंधन बताए वो गांधी मॉड्यूल पर चलेंगे या जिन्ना मॉड्यूल पर. हाल ही में नित्यानंद राय ने जो बयान दिया था उसपर काफी बवाल मचा था, लेकिन नित्यानंद राय ने जो कहा था वो सच सामने आने लगा है. क्या दरभंगा आतंकियों का पनाहगार नहीं बना था?

गिरिराज सिंह ने कहा कि कांग्रेस बताए उसने देशद्रोही को टिकट क्यों दिया. क्या ये सच नही है कि उस्मानी पर FIR हुआ था. सब कुछ जानते हुए भी कांग्रेस ने उस्मानी को उम्मीदवार बनाया. महागठबंधन की मनसा अब जाहिर हो चुकी है.

शक्ति सिंह गोहिल की ओर से आडवाणी पर सवाल खड़े करने को लेकर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आडवाणी जी पाकिस्तान गए थे. ये किसी से छुपा नहीं, लेकिन कांग्रेस आडवाणी का नाम लेकर हकीकत से नहीं बच सकती.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *