• Fri. Nov 27th, 2020

छठ महापर्व का तीसरा दिन आज, अस्ताचलगामी सूर्य को दिया गया अर्घ्य

आज छठ महापर्व का तीसरा दिन है. शाम में डूबते सूर्य को अर्घ्य दिया गया. घाटों पर लाइट की पूरी व्यवस्था की गई थी ताकि किसी को परेशानी ना हो. सुरक्षा के लिए भारी संख्या में जवानों की तैनाती की गई है.

उससे पहले दूसरे दिन यानी गुरुवार को खरना पूजा की गई. खरना के दिन शाम के समय मिट्टी के चूल्हे पर आम की लकड़ी को जलाकर कांसा-पीतल या मिट्टी के बर्तन में खरना का प्रसाद बनाया गया. जिसे खाने के साथ ही निर्जला उपवास शुरू हो गया. यूं तो छठ पूजा के पहले से ही छठ के गीत बजने लगते हैं और एक भक्तिमय माहौल सा बन जाता है. छठ पूजा में गीतों का भी काफी खास महत्व होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

🦠🧬 COVID-19 महामारी, लापरवाही पड़सकता है भारी।

प्रिय पाठक , शर्दी में कोरोना का बढ़ने का आषा किया जा रहा है ,इसलिए ख़ामोश दुनिया टीम आप सभी पाठक से आग्रह करता है की घर से बहार निकलते समय मास्क जरूर पहने। धन्यवाद "जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं।"