• Sat. Nov 27th, 2021

भारत आ रहा डेडली ‘रोमियो’ हेलीकॉप्टर, भारतीय नौसेना को मिलेगा पहला MH-60R रोमियो हेलीकॉप्टर!

ByG P Soni

Jun 8, 2021

दिल्ली: 24 MH-60R सीहॉक रोमियो हेलीकॉप्टर की डील में पहले 3 हेलीकॉप्टर की डिलीवरी अगले महीने होने की उम्मीद है।

भारतीय नौसेना के पायलट और ग्राउंड क्रू पहले से ही अमेरिका में प्रशिक्षण ले रहे हैं। वे नए MH-60R रोमियो हेलीकॉप्टर के साथ लौटेंगे।

हेलीकॉप्टरों की डिलीवरी भारत और अमेरिका की सरकारों के बीच हुए अनुबंध में बताई गई समय-सीमा के अनुसार होगी। 24 हेलीकॉप्टर विदेशी सैन्य बिक्री (एफएमएस) रूट से आ रहे हैं और लगभग 2.6 बिलियन डालर के हैं। ये हेलीकॉप्टर भारतीय नौसेना को हिंद महासागर क्षेत्र (IOR) में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने में मदद करने वाले हैं।

2020 में, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के नई दिल्ली आगमन से पहले पिछले साल फरवरी में सुरक्षा पर कैबिनेट कमेटी (CCS) द्वारा सौदे को मंजूरी मिली थी।

इन हेलिकॉप्टरों को टॉरपीडो और मिसाइलों से लैस किया जाएगा और इन मिसाइलों का इस्तेमाल एंटी सबमरीन भूमिकाओं में किया जाएगा।

इन हेलीकॉप्टरों की डिलीवरी डील साइन होने के पांच साल में पूरी हो जाएगी।

ये हेलीकॉप्टर ब्रिटिश सी किंग हेलीकॉप्टरों की जगह लेंगे।

रक्षा अधिग्रहण परिषद ने 2018 में अपनी मंजूरी दी थी।

अमेरिका स्थित लॉकहीड मार्टिन कंपनी भारतीय विनिर्देशों के अनुसार हेलीकॉप्टरों को मोडिफाई करेगी। संशोधन में the folding main rotor and a hinged tail, शामिल होंगे। जो जहाजों पर फुटप्रिंट्स को कम करने में मदद करेगा।

इन हेलीकॉप्टरों में Anti-Submarine Warfare (ASW), Anti-Surface Warfare (ASUW) संचालन को संभालने की क्षमता है। इनका उपयोग Search and rescue (SAR), as well as combat search and rescue (CSAR), naval special warfare (NSW) insertion, vertical replenishment (VERTREP), and medical evacuation (MEDEVAC) में भी किया जा सकता है।

 835 कुल दृश्य,  2 आज के दृश्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

SORRY SIR .... WE ARE WITH YOU BUT DONOT COPY....